अन्य जनपदांे से आने वाले व्यक्तियों पर कडी निगरानी रखे: डीएम

Spread the love
नोडल अधिकारियांे के साथ आवश्यक बैठक लेते जिलाधिकारी विनीत कुमार।

अन्य जनपदांे से आने वाले व्यक्तियों पर कडी निगरानी रखे: डीएम
जिलाधिकारी विनीत कुमार ने नोडल अधिकारियांे के साथ आवश्यक बैठक की
सीएन, बागेश्वर।
जनपद में कोरोना संक्रमण के नियंत्रण एवं बचाव के लिए की जाने वाली आवश्यक व्यवस्थाओं एवं तैयारियों के संबंध में जिलाधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में जिला कार्यालय सभागार में स्वास्थ विभाग एवं तैनात कियें गयें नोडल अधिकारियांे के साथ आवश्यक बैठक आहूत की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर बडी तेजी से बढ रही हैं, जिसके नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए सभी आवश्यक तैयारियां एवं व्यवस्थायें समय से सुनिश्चित कर ली जाय, जिसके लिए जो जिम्मेदारी एवं दायित्व जिस अधिकारी को दियंे गयें हैं वह अपने दायित्वो का निवर्हन सर्तकता एवं सावधानी के साथ करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी कोविड.19 को निर्देश दियें कि जनपद में बढते कोरोना संक्रमण को देखते हुए यह सुनिष्चित किया जाय कि जनपद के अन्य दूरस्थ क्षेत्रों जिसमें कपकोट, काण्डा एवं गरूड मंे भी कोविड केयर सेंटर चिन्हित करते हुए उनमें सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित की जाय, ताकि किसी भी व्यक्ति में कोरोना संक्रमण के लक्षण पायें जाने पर संबंधित कोविड केयर सेंटरों में उन्हें उचित चिकित्सा सुविधा मुहैया करायी जा सकें। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को भी निर्देश दियें कि जनपद के कोविड चिकित्सालय एवं कोविड केयर सेंटरों में पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन एवं दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराया जाय। उन्होंने नोडल अधिकारी लाॅजिस्टिक को निर्देश दियंे कि कोरोना संक्रमण के बढते मामलों को ध्यान में रखते हुए सभी आवश्यक व्यवस्थाओं की आपूर्ति समय से सुनिश्चित कराया जाय, जिसमें पीपीई किट, माॅस्क, सेनेटाईजर आदि की उपलब्धता मांग के अनुरूप बनी रहें ताकि कही सेे मांग आने पर तत्काल आवश्यक सामाग्री उपलब्ध करायी जा सकें। उन्होने नोडल अधिकाारी बीआरटी एवं सीआरटी को भी निर्देश दियें कि जनपद में बाहर से आने वाले व्यक्तियों की कडी निगरानी करते हुए किसी व्यक्ति में कोरोना संक्रमण के लक्षण पायें जाते है तो उसे तत्काल कोविड केयर सेंटर एवं नजदीकी चिकित्सालय में पहुंचाना सुनिश्चित करें तथा संक्रमित व्यक्तियांे के संपर्क मंे आने वाले व्यक्तियों की कांटैªक्ट टेªसिंग कराते हुए इसकी सूचना तत्काल कंट्रोल रूप तथा नजदीकी केाविड केयर सेंटर में देना सुनिष्चित करें। उन्होंने नोडल अधिकारी अभिलेखीकरण को निर्देश दियें कि स्टेजिंग एरिया में आने वाले व्यक्तियांे का पूर्ण डाटा तैयार करने के निर्देश दियें, ताकि कोई व्यक्ति संक्रमित पाया जाता है तो उसकी तत्काल कांटैªक्ट टेªसिंग की जा सकें। उन्होंने नोडल अधिकारी आइसोलेषन को भी निर्देष दियें कि यदि किसी भी व्यक्ति में किसी प्रकार के लक्षण पायें जाते है तो उसको तत्काल होम आइसोलेषन करते हुए सरकार द्वारा जारी दिषा निर्देषों का कडाई से अनुपालन सुनिष्चित किया जाय, इसमें बडी सर्तकता एवं सावधानी से कार्य किया जाय तथा किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय। उन्होने ग्राम स्तर पर गठित निगरानी समिति को निर्देश दियें कि जनपद में अन्य राज्यों एवं प्रदेश के अन्य जनपदांे से आने वाले व्यक्तियों पर कडी निगरानी रखते हुए यदि किसी व्यक्ति मंे किसी प्रकार के लक्षण पाये जाते है तो इसकी सूचना तत्काल कंट्रोल रूप को देना सुनिश्चित करें। उन्होने सभी नोडल अधिकारियों से कहा कि कोरोना संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए आम जनमानस से माॅस्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करने, हाथों को बार.बार धोने तथा सामाजिक दूरी बनायें रखने जैसे आदि नियमों को कडाई से अनुपालन कराने के निर्देश दियें उन्होने कहा कि यदि किसी भी व्यक्ति द्वारा नियमों का पालन नहीं किया जाता हैं तो उनके विरूद्ध आवष्यक कार्रवाई सुनिष्चित की जाय। बैठक में अपर जिलाधिकारी हेमन्त कुमार वर्मा, प्रभारी मुख्य विकास अधिकारी केएन तिवारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. बीडी जोशी, परियोजना निदेषक शिल्पी पंत, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. एनएस टोलिया, मुख्य कृषि अधिकारी वीपी मौर्या, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी देवेन्द्र नाथ गोस्वामी, उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डाॅ. कमल पंत, अधिषासी अधिकारी नगर पालिका राजदेव जायसी, आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल, निर्मल बसेडा सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *