तराई के चावल निर्यातकों की समस्याएं हल करेगा रेलवे

Spread the love


रुद्रपुर रेलवे स्टेशन पर चावल निर्यातकों की समस्याएं सुनते मुख्य वाणिज्य प्रबंधक।
– फोटो : RUDRAPUR

ख़बर सुनें

पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर के मुख्य वाणिज्य प्रबंधक (सीसीएमएफएम) अनिल कुुमार ने शनिवार को रुद्रपुर रेलवे स्टेशन पर ऊधमसिंह नगर के चावल निर्यातकों की समस्याएं सुनीं। उन्होंने कहा कि चावल निर्यातकों की समस्याओं को रेल मंत्रालय तक पहुंचाकर इनका शीघ्र समाधान करवाने की प्रयास करेंगे।
चावल निर्यातकों ने कहा कि तराई से चावल का निर्यात चीन, दक्षिण अफ्रीका, सूडान, नाइजीरिया, सोमालिया आदि देशों के लिए होता है, लेकिन रेलवे अनावश्यक ढुलाई शुल्क बढ़ाकर उत्पीड़न कर रहा है। एक बिल्टी का 155 रुपये भाड़ा पड़ता था, जो कि अब 173 रुपये कर दिया गया है। पीडी अग्रवाल ने कहा कि पिछले दिनों उन्हें इस बढ़े हुए शुल्क पर करीब तीन लाख रुपये अधिक देना पड़ा।
मुख्य वाणिज्य प्रबंधक अनिल कुमार के समक्ष चावल निर्यातकों से रेलवे स्टेशन के सौंदर्यीकरण के साथ ही माल गोदाम को हल्दी या छतरपुर में स्थापित करने की मांग की। वहां पर वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक रोहित गुप्ता, वाणिज्य अधिकारी मुकेश कुमार, गोपाल गोयल, घनश्याम श्यामपुरिया, रोहित मित्तल, गुरदीप सिंह, महेंद्र मित्तल, अंकुर बंसल, राकेश बब्बर, रेलवे स्टेशन अधीक्षक डीएस मर्तोलिया आदि थे।(संवाद)

पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर के मुख्य वाणिज्य प्रबंधक (सीसीएमएफएम) अनिल कुुमार ने शनिवार को रुद्रपुर रेलवे स्टेशन पर ऊधमसिंह नगर के चावल निर्यातकों की समस्याएं सुनीं। उन्होंने कहा कि चावल निर्यातकों की समस्याओं को रेल मंत्रालय तक पहुंचाकर इनका शीघ्र समाधान करवाने की प्रयास करेंगे।

चावल निर्यातकों ने कहा कि तराई से चावल का निर्यात चीन, दक्षिण अफ्रीका, सूडान, नाइजीरिया, सोमालिया आदि देशों के लिए होता है, लेकिन रेलवे अनावश्यक ढुलाई शुल्क बढ़ाकर उत्पीड़न कर रहा है। एक बिल्टी का 155 रुपये भाड़ा पड़ता था, जो कि अब 173 रुपये कर दिया गया है। पीडी अग्रवाल ने कहा कि पिछले दिनों उन्हें इस बढ़े हुए शुल्क पर करीब तीन लाख रुपये अधिक देना पड़ा।

मुख्य वाणिज्य प्रबंधक अनिल कुमार के समक्ष चावल निर्यातकों से रेलवे स्टेशन के सौंदर्यीकरण के साथ ही माल गोदाम को हल्दी या छतरपुर में स्थापित करने की मांग की। वहां पर वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक रोहित गुप्ता, वाणिज्य अधिकारी मुकेश कुमार, गोपाल गोयल, घनश्याम श्यामपुरिया, रोहित मित्तल, गुरदीप सिंह, महेंद्र मित्तल, अंकुर बंसल, राकेश बब्बर, रेलवे स्टेशन अधीक्षक डीएस मर्तोलिया आदि थे।(संवाद)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *