कोलकाता में दुर्गा पंडाल में हुआ हादसा, आग के कारण मूर्ति और शामियाना जलकर खाक

Spread the love


आयोजकों के मुताबिक, शाम को मूर्ति विसर्जन किया जाना था. (सांकेतिक फोटो)

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में दुर्गा उत्सव मनाने के लिए लगाए गए पंडाल में बुधवार को आग लग गई थी. फिलहाल आग के कारणों का पता नहीं लग पाया है. हालांकि, इस दौरान किसी भी तरह की जनहानि नहीं हुई.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 28, 2020, 4:03 PM IST

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में कोलकाता के सॉल्ट लेक इलाके में स्थित दुर्गा पूजा पंडाल में बुधवार को आग (Fire incident) गई. इस आगजनी में रखी देवी दुर्गा की मूर्ति और शामियाना जल कर खाक हो गए. हालांकि, इस दौरान अच्छी खबर यह रही कि घटना में कोई जख्मी नहीं हुआ है.

शाम को मूर्ति विसर्जित होने का था प्लान
अग्निशमन विभाग (Fire Department) के सूत्रों ने बताया कि बुधवार तड़के आग लगने का पता चला. आग ने धीरे-धीरे पूरे पंडाल को अपनी चपेट में ले लिया. आयोजकों ने बताया कि मूर्ति को शाम में विसर्जित किया जाना था. अग्निशमन एवं आपात सेवा मंत्री सुजीत बोस ने बताया कि बिना जांच के आग का कारण बता पाना मुश्किल है.

उन्होंने बताया ‘मैंने आग लगने की घटना पर जांच के आदेश दिए हैं. फॉरेंसिक परीक्षण किया जाएगा’. पूजा आयोजकों में से एक ने कहा कि सरकार के सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया गया था और अग्निशमन विभाग से इजाजत भी ली गई थी.

बंगाल में कोरोना की चमक की फीका नहीं कर पाया कोरोना वायरस
एक ओर जहां कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया हुआ है. वहीं, दूसरी ओर पश्चिम बंगाल में धूमधाम से मनाया जाने वाला 9 दिन का दुर्गा त्यौहार भव्यता के साथ मनाया गया. राज्य में कई जगहों पर दुर्गा पंडाल तैयार किए गए थे. कोरोना से डरने के बजाए दुर्गा भक्तों ने इसे पंडाल के थीम में बदल दिया था. मुर्शिदाबाद के दुर्गा पंडाल ने काफी सुर्खियां बटोरी थीं. यहां खुद दुर्गा मां डॉक्टर्स को ताज पहनाकर उनका सम्मान कर रही थीं.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *